Monday, June 3, 2019

Sanskrit subhashitam

🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*सत्येन रक्ष्यते धर्मो विद्याऽभ्यासेन रक्ष्यते।*
*मृज्यया रक्ष्यते रुपं कुलं वृत्तेन रक्ष्यते॥*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
भावार्थः-  *धर्म का रक्षण सत्य से, विद्या का अभ्यास से, रुप का सफाई से, और कुल का रक्षण आचरण करने से होता है ।*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*The protection of religion is by truth, by the practice of knowledge, by cleaning the beauty And the protection of the family is by the behaviour.*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*आपका आज का दिन मंगलमय रहे।*
*🙏🌹🚩सुप्रभातम्🚩🌹🙏*

No comments:

Post a Comment