Friday, June 1, 2018

Enthusiasm-Sanskrit subhashitam

🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*उत्साहो बलवानार्य नास्त्युत्साहात्परं बलम्।*
*सोत्साहस्य च लोकेषु न किंचिदपि दुर्लभम्॥*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
भावार्थ - *जिस व्यक्ति के भीतर उत्साह होता है, वह बहुत बलवान् होता है। उत्साह से बढ़कर कोई अन्य बल नहीं है, उत्साह ही परम् बल है। उत्साही व्यक्ति के लिए इस संसार में कुछ भी वस्तु दुर्लभ नहीं है।*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*The person who is enthusiastic is very strong. There is no other force greater than enthusiasm, enthusiasm is the only force. Nothing in this world is rare for the enthusiastic person.*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩
*आपका आज का दिन मंगलमय रहे।*

*🙏🌹🚩सुप्रभातम्🚩🌹🙏*